ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

मेरी पिछली पोस्ट में मैंने ऑनलाइन उपस्थिति क्या है, इसके बारे में विस्तार पूर्वक बताया है, उसी श्रंखला में यह पोस्ट है, जिसमें ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं? के साथ साथ कुछ और बुनियादी बातें व्यापार और पेशे के सञ्चालन, वृद्धि और लाभदायकता बनाये रखने के सम्बन्ध में ध्यान रखने और अंगीकार करने योग्य हैं,

जो इस प्रकार हैं, यह जानकारी मेरे 36 वर्षों के अनुभव, निरीक्षण और प्रयोगों का निष्कर्ष है।

कुछ बेहद बुनियादी बातें व्यापार और पेशे सञ्चालन के सम्बन्ध में हर व्यक्ति को ध्यान रखनी चाहिए, इनको समझे और अपने कार्य और जीवन में उतारे बगैर वो कभी भी किसी भी व्यापार, उद्योग और पेशे में सफलता पूर्वक और लम्बे समय तक विकसित होते और लाभ कमाते नहीं रह सकेंगे।

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?
व्यवसाय और पेशे से सम्बंधित सार्वत्रिक जरुरी नियम, हर काल समय और स्थिति में सत्य है –
  1. व्यवसाय की प्रगति और उन्नति के लिए आपके ग्राहकों में निरंतर वृद्धि होना आवश्यक है, साथ ही नियमित ग्राहकों का संतुष्ट और व्यवसाय के प्रति सकारात्मक रवैय्या होना अनिवार्य है।
  2. आपके व्यवसाय, उत्पाद और सेवाओं के संबन्ध में समुचित जानकारी आपके वर्तमान और संभावित ग्राहकों तक पहुँचाने के लिए नियमित रूप से आवश्यक प्रचार और प्रसार करना आवश्यक है, प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष माध्यमों से, आज के समय में ऑनलाइन माध्यम, सबसे सटीक, सुरक्षित, प्रभावी और सस्ते हैं।
  3. आपको अपने ग्राहकों की पसंद, नापसंद, उत्पाद/सेवा सम्बन्धी समस्याओं, अपेक्षाओं और आवश्यकता के सम्बन्ध में पर्याप्त जानकारी होनी चाहिए।
  4. आपके उत्पाद और सेवाएं ग्राहकों को उनकी सुविधानुसार, उचित मूल्य पर और उचित तरीके से और उनके उपयोग के स्थान तक पहुँचाने की सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए।
  5. आपके उत्पाद और सेवाएं बेहतर गुणवत्ता, उचित मूल्य और प्रतियोगियों से बेहतर या समकक्ष होनी चाहिए, और ग्राहकों को आपसे जुड़े रहने के लिए प्रोत्साहित करनेवाले होना चाहिए।
  6. आपको अपने ग्राहक को अपने उत्पाद और सेवाओं के सम्बन्ध में सभी आवश्यक जानकारी और जरुरी सुझाव प्रदान किये जाने चाहिए, ताकि उन्हें अधिकतम संतुष्टि और लाभ प्राप्त हो सके।
  7. आपके ग्राहक निरंतर आपके संपर्क में रहने और पुनः क्रय करने के लिए उत्सुक और तत्पर होने चाहिए, इसकी व्यवस्था भी आपको करनी है, जागरूकता, छूट, उपहार, ऑफर, निशुल्क सेवाएं, इसके लिए आपकी अपनी वेबसाइट, ऑनलाइन ग्रुप, सोशल मीडिया पेज आदि बेहद सहायक हैं।
  8. आपके व्यवसाय/पेशे उत्पाद और सेवाओं से सम्बंधित नयी तकनीकों, उपयोग के नए तरीकों का समय समय पर आपके व्यापार/पेशे में समावेश, उपयोग और ग्राहकों को इस सम्बन्ध में जानकारी की उपलब्धता।
  9. आपके व्यवसाय को सभी आधुनिक डिजिटल भुगतान पद्धितियों, इन्वेंटरी सिस्टम और पैकेजिंग और डिलीवरी सिस्टम से युक्त होना आवश्यक है, ताकि ग्राहक आपके साथ व्यवहार करने में सुविधा, सुरक्षा और विश्वास से युक्त हो सके, वर्ना वह ज्यादा सुविधा संपन्न ऑनलाइन स्टोर्स या माल से ही उत्पाद और सेवाएं क्रय करने में उत्सुक रहेगा।
  10. आपके संस्थान/पेशे को ग्राहक के लिए बेहतर बिक्री उपरांत सुविधा, समस्या और संदेह निवारण की व्यवस्था से युक्त होना चाहिए।
  11. आपको वर्तमान टेक्नोलॉजी, अर्थव्यवस्था और बाज़ार में आपके व्यवसाय, सेवाओं, उत्पादों के सम्बन्ध में ऑनलाइन जानकारी उपलब्ध होनी चाहिए, अन्यथा आप बाज़ार से बाहर हो जायेंगे या बेहद सीमित लोगों और स्थानों तक आपकी पहुँच और व्यापार बना रहेगा और आप आपके स्मार्ट प्रतियोगियों से मात खाते रहेंगे और बेहद दुर्बल स्थिति में पहुँच जाएंगे।
  12. आपको व्यापार और व्यवसाय सिर्फ बीती हुई पीढ़ी के साथ नहीं वर्तमान और आगामी पीढ़ी के साथ करना है, उनकी सोच, पसंद और सुविधा और मार्किट ट्रेंड को ध्यान में रखते हुए अपने व्यवसाय का ढांचा, और स्वरुप निर्मित कीजिये वरना आप आउटडेटेड और अस्वीकृत हो जायेंगे।

यह सभी छोटे बड़े, व्यापारियों/पेशेवरो/उद्यमियों के लिए बेहद जरुरी और अपरिहार्य नियम और व्यवस्थाएं हैं जो आज स्थापित, संचालित हुए हैं, या पूर्व के समय से संचालित और स्थापित व्यवसाय/पेशे, ये सभी के लिए परम आवश्यक हैं, इनकी अवहेलना करके कोई भी व्यापार/पेशा गति, प्रगति और बाज़ार में लम्बे समय तक कार्यरत नहीं रह सकेगा।

यह मेरे 36 वर्षों के निरीक्षण, परीक्षण, अवलोकन और अनुभव पर आधारित सत्य है, कुछ बेहद जरुरी बातें है, जिनका जिक्र यहाँ कर रहा हूँ जिन्हें मैंने यहाँ व्यापार/पेशे से जुड़े लोगों के पिछड़ने और उनके ग्राहकों की संख्या में कमी और व्यापार  के गिरते स्तर के लिए जिम्मेदार पाया हैं – 

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?
आज के व्यवसायियों की समस्याओं की जिम्मेदार प्रमुख बातें – 
  • ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करने के सम्बन्ध में अज्ञानता और उपेक्षा का भाव

मैंने इस सम्बन्ध में बहुत खोज और निरीक्षण किया और पाया की यह हर पीढ़ी में होने वाली समस्या है, जब समाज और व्यवस्था एक कर्न्तिकारी बदलाव और कार्य करने के नए स्वरुप और व्यवस्था को अंगीकार करने की और अग्रसर होते हैं तो लोग उसके प्रति अरुचि और अस्वीकार दिखाते हैं।

वो जीवन के सबसे बड़े नियम जरुरी परिवर्तन को स्वीकार करने के नियम को अनदेखा करने की कोशिश करते हैं और दीर्घकालीन नुकसान उठाते हैं और समय के साथ न चलने की वजह से अपने से बहुत छोटे लेकिन प्रगतिशील लोगों से बहुत पीछे छूट जाते हैं।

आप देखिये आपका व्यापार/पेशा और व्यापार सञ्चालन के तरीकों में इनमें से कितनी बातों का नियमित उपयोग किया जा रहा है, और क्या अमल में लाने की जरुरत है, इन्हें अस्वीकृत और इनकार मत कीजिये वरना काफी लाभों को पाने से वंचित रह जायेंगे।

और ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करना उन बदलावों में सर्वोपरि है, इसकी अवहेलना आपको निश्चित रूप से अपने व्यवसाय और क्षेत्र में आगे बढ़ने में सहायक नहीं होने वाली है, अतः इसकी और ध्यान दीजिये और आज ही इस सम्बन्ध में जरुरी कदम उठाइए।

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

  • विकास और उन्नति के अवरोध पुरातन और परम्परागत सोच –

सभी परंपरागत और गैर आधुनिक साधनों, संसाधनों का व्यापार और पेशे में उपयोग करनेवाले सभी मित्रों की मुखर एवं मौन अभिव्यक्तियों में यह प्रश्न दिखता है – हमें इसकी क्या जरुरत है? हमारा काम काज तो अच्छा चल रहा है? हम जो काम/धंधा करते हैं, उसका इससे क्या लेना देना हो सकता है? हम क्या करेंगे ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करके?

इसके अलावा वो सोचते हैं, और कुछ सज्जन पूछते भी हैं –  हमें इससे कैसे और क्या लाभ हो सकता है? ऐसे बहुत सारे सवाल उनके जेहन में कौंधते हैं, और वो मुझे प्रश्नवाचक और संदेह पूर्ण दृष्टि से भी देखते हैं, पता नहीं यह व्यक्ति हमसे क्या करवाना चाहते हैं, हम इस सब में नहीं पड़ना चाह्ते, हमको इस सब झमेले से क्या लेना देना हो सकता है?

वो सभी महानुभाव ऑनलाइन उपस्थिति के महत्त्व और उसकी उपयोगिता के सम्बन्ध में कुछ भी नहीं जानते, ऐसा वो सोचते हैं।

लेकिन वो बहुत सारी ऑनलाइन सुविधाओं का अपने दैनिक जीवन व्यवहार में उपयोग कर रहे होते हैं, लेकिन जब यह उनके अपने कार्य या व्यवसाय के सम्बन्ध में किया जाना हो तो वो सोच में पड़ जाते हैं, है न मजेदार बात।

यह सभी महानुभाव दूसरे उद्योगों, व्यवसाय और पेशेवरों की ऑनलाइन उपस्थिति के कारण ही उनसे जुड़े हैं और खुद के संबन्ध में यही करने की बात करने पर सवाल उठाते हैं?

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?
आप के जीवन में ऑनलाइन एक्टिविटी और प्रोसेस का प्रभुत्व 
  • आपके के जीवन में ऑनलाइन एक्टिविटी का दखल –

आप हर सुबह समाचार मोबाइल पर ऑनलाइन देखते हैं, क्रिकेट का मैच और स्कोर देखते हैं, अपने घरेलु गैस की बुकिंग ऑनलाइन करते हैं, ट्रैफिक किस एरिया में नहीं है, मौसम की जानकारी, रेलवे, मूवी टिकट बुक करते हैं, Google Map  का उपयोग किसी स्थान या लोकेशन को देखने, विभिन्न बातों की जानकारी लेने, अपने बच्चों और युवकों के एग्जाम फॉर्म, एडमिशन फॉर्म और न जाने कितनी सारी सुविधायें घर बैठे ऑनलाइन उपलब्ध कर पा रहे हैं।

इसके अलावा रोजाना के कितने कार्य जैसे अपने विद्युत और अन्य बिल व मोबाइल रिचार्ज का भुगतान मोबाइल से करते हैं, अपने जरुरत के सामान को ऑनलाइन स्टोर अमेज़न, फ्लिपकार्ट और अन्य स्थानों से घर बैठे आर्डर देकर मंगवाते हैं।

वो अपने सभी सामान्य और कीमती सामान की खरीददारी करने से पूर्व उसकी कीमत, गुणवत्ता, अन्य उत्पादों के साथ उनका तुलनात्मक अध्ययन एवं अन्य उपभोक्ताओं के अनुभव आधारित रिव्यु को पढने के बाद ही अपने लोकल मार्केट या ऑनलाइन शॉप्स से ही खरीद करते हैं और ऑनलाइन ही भुगतान करते हैं।

You tube, Google पर न जाने कितनी सारी बातों को वो खुद, उनके बच्चे, गृहणियां जान और सीख रहें हैं, अपने शहर या किसी भी शहर में किसी भी उत्पाद या सेवा के सम्बन्ध में जानकारी लेनी हो आपकी उँगलियों पर उपलब्ध है, आपको टैक्सी चाहिए, होटल बुक करना है, घर बैठे खाना मंगवाना है, अपने या दूसरे शहर में कोई वस्तु, सुविधा या स्थान कहाँ पर है, उस तक कैसे पहुंचा जाये, कितना व्यय करना होगा आदि सब कुछ आपकी उँगलियों पर उपलब्ध है।

ऐसा क्या है जो आपको ऑनलाइन उपलब्ध नहीं है, फिर भी अपने व्यवसाय की ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करने से इनकार है, है न मजे की बात।

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

  • आज की दुनिया में आप ऑनलाइन हैं मतलब आप अस्तित्व में हैं –

आज की व्यस्त और तेज रफ़्तार जिन्दगी और बढ़ते हुए शहरों की वजह से एक शहर के अंदर ही एक कोने में आप हैं तो दुसरे कोने में कोई क्या कर रहा है इसके बारे में पता करना आसान नहीं है, इसलिए लोग जरुरत पड़ने पर सबसे पहले ऑनलाइन ही सर्च करते हैं, इसकी वजह है की लोग जानते हैं की ऑनलाइन सबकुछ मिल सकता है।

लेकिन आप ऑनलाइन नहीं होंगे तो कोई आपके बारे में नहीं जान पायेगा, उन मुट्ठी भर लोगों के अलावा जिन्हें आप जानते हैं या जिनसे व्यवहार करते हैं, क्या यह आपके पूरे जीवन, आने वाले भविष्य, आपकी जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए काफी है, जबकि आपके प्रतियोगी हर संभव तरीके से लोगों तक पहुँच रहे हैं और आपके लिए व्यापार और ग्राहक बनाने और बढ़ने के मार्ग सीमित कर रहे हैं।

 क्यूंकि आज आबादी का बहुत बड़ा हिस्सा ऑनलाइन ही उत्पाद और सेवाओं को खोज रहा है, और आप वहां उपलब्ध और उपस्थित नहीं है, मतलब आप इस व्यापार/पेशे में नहीं है, एक तरह से होकर भी नहीं है, क्या आप इस तरह से मौजूद रहना चाहते हैं और संभावित और उपलब्ध लाभों से सदा वंचित रहना चाहते हैं?

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

  • व्यवसाय में भी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष दखल –

आप सभी मित्र अपनी शॉप में आनेवाले ग्राहकों से PayTM, BhimUPI, Phonepe, Google Pay और अन्य डिजिटल पेमेंट सुविधाओं के माध्यम से भुगतान स्वीकार करते हैं और स्वयं भी दूसरों को भुगतान या फण्ड ट्रान्सफर करते हैं, फिर भी कहेंगे हमें इसकी क्या जरुरत है, है न मजेदार बात, अभी हाल ही मैंने अपने भाई की शॉप पर PayTM से भुगतान स्वीकार करना प्रारंभ करवाया, वरना ग्राहक वापिस जा रहे थे, ग्राहक कभी भी कहीं भी खरीददारी कर सकता है, डिजिटल पेमेंट सिस्टम की वजह से।

सारी दुनिया डिजिटल हो रही है, यह सभी व्यवसायी/पेशेवर मित्र, स्वयं दर्ज़नों कार्य ऑनलाइन कर रहे हैं लेकिन अपने व्यवसाय को ऑनलाइन लोकेट और उपलब्ध कराने के सम्बन्ध में सोच रहे हैं, मैंने पिछले 8 – 10 वर्षों में शायद ही कभी किसी यूटिलिटी बिल या परचेस का भुगतान नगद में किया हो, यदि वहां डिजिटल पेमेंट की सुविधा उपलब्ध हो तो, आप क्यूँ चूकना चाहते हैं?

ऑनलाइन उपस्थिति की अनिवार्यता के घटक –
  • जो दिखता है, वही बिकता है – जो ऑनलाइन हैं वही अधिकतम लाभ उठा रहे हैं

क्या आपने कभी सोचा है, आप जिन सेवाओं, वेबसाइट, उत्पादों और अन्य व्यक्तिगत और अपने कार्य सम्बन्धी जानकारी उपलब्ध कर पा रहे हैं वो आपको इसलिए मिल पा रही है क्यूंकि उन सेवा या उत्पादों के विक्रेता या प्रदायकर्ता ने उन्हें ऑनलाइन दर्ज किया है, उपलब्ध कराया है।

सोचिये, यदि उन्होंने इसे ऑनलाइन उपलब्ध नहीं कराया होता तो आप उन सभी सुविधाओं, जानकारियों और सूचनाओं तक कभी भी नहीं पहुँच पाते, और आपको यह बहुत मेहनत करने पर उपलब्ध होती वो भी आधी अधूरी और बिना जांची परखी हुई।

यही बात आपके कार्य और व्यवसाय के सम्बन्ध में सत्य है, यदि वह ऑनलाइन नहीं है तो बहुत सारे लोग कभी भी आपके बारे में नहीं जान सकेंगे, न ही आपसे कोई व्यावसायिक व्यवहार कर पाएंगे, सोचिये कितना बड़ा नुकसान आप उठा रहे हैं, और उठाते रहेंगे जब तक आप ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज नहीं करेंगे।

  • आप को पता नहीं आपके प्रतियोगी और अन्य प्रदायकर्ता इसका लाभ उठा रहे हैं –

क्या आपको पता है आप जिस भी व्यवसाय/पेशे/सेवा से सम्बंधित हों, आपके प्रतियोगी, आप की तरह बेखबर और अनजान नहीं हैं, वो उन सभी लाभों को उठा रहे हैं, जो आप तक भी पंहुच सकते हैं, लेकिन आप को वो कभी नहीं मिलेंगे क्यूंकि आप ऑनलाइन नहीं है।

जब भी कोई उपभोक्ता आप से सम्बंधित किसी सेवा, उत्पाद और पेशे की जानकारी और अपने क्षेत्र/शहर/नजदीक के स्थान पर या अपने पडोसी शहर में खोजता है तो आप उन्हें नहीं मिलेंगे, वो कभी भी नहीं जान पाएंगे की आप का अस्तित्व भी है, जब तक वो आपके किसी परिचित या माध्यम के द्वारा आप तक न पहुंचे।

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

  • आज आपकी ऑनलाइन उपस्थिति आपकी व्यावसायिक सफलता का आधार है –

आज के समय में आपके व्यापार और प्रोफेशन की सफलता और वृद्धि आपकी ऑनलाइन उपस्थिति पर काफी हद तक निर्भर है – आप एक अच्छे टीचर, इलेक्ट्रीशियन, डॉक्टर, इंजिनियर, मेडिकल शॉप, डेकोरेटर, कैटरर, कांट्रेक्टर, डिज़ाइनर, क्राफ्टमेकर, होटल, रेस्तरां के मालिक या अन्य किसी प्रकार के उद्यम. व्यापार, पेशे के संचालक हैं।

आप एक नए या परंपरागत दुकानदार हैं, कोई व्यावसायिक/व्यक्तिगत सेवा प्रदाता हैं, किसी विशेष कला या हुनर में पारंगत हैं, आप किसी कार्य या विधा में विशिष्टता प्राप्त हैं, जैसे डांस, म्यूजिक, स्पोर्ट्स, योग, और यह सब कुछ और लोगों को सिखाना चाहते/चाहती हैं।

आप ऑनलाइन यूटिलिटी सर्विसेज प्रदान करते हैं, आप जो भी करते हैं, करना चाहते हैं उसके बारे में लोगों तक जानकारी और सूचना पहुंचाइये, और इसमें हम आपकी पूरी मदद करने के लिए यहाँ प्रस्तुत हैं।

  • आप सफल होना चाहते हैं या नहीं?

अपने आप से पूछिए,  क्या आप सक्षम, कुशल और प्रोफेशनल होने के बावजूद भी गुमशुदा और अज्ञात रहना चाहते हैं और एक कुशल और बेहतर सेवा प्रदाता, पेशेवर और व्यवसायी की सेवाओं से बहुसंख्य उपभोक्ताओं को वंचित रखना चाहते हैं

यह न आपके हित में है न उनके हित में, इसलिए बिना देरी किये अपने कार्य, व्यवसाय, फर्म को ऑनलाइन स्थापित कीजिये, अपनी जानकारी, सेवाएं, उत्पाद, संपर्क, गुणवत्ता और सेवा शुल्क, उत्पादों के मूल्यों को लोगों के साथ साझा कीजिये और उन्हें आपकी सेवाओं और उत्पादों का लाभ लेने दीजिये।

अपने समाज और लोगों के साथ अपनी गुणवत्ता और सक्षमता को साझा कीजिये और उनसे लाभ लीजिये, अपने कार्य, सेवाओं और संतुष्ट और गुणी ग्राहकों की संख्या में वृद्धि कीजिये, अपने व्यवसाय/पेशे को अधिक विस्तार, लाभ पाने में समर्थ कीजिये और अपने कार्यक्षेत्र में अपना प्रभुत्व और पहचान बनाइये।

हम इसमें आपकी मदद करने के लिए प्रस्तुत हैं, यह एक वास्तविकता है और आप इसे अपने लिए सच कर सकते हैं, बस आपके एक छोटे से कदम उठाने से यह प्रारंभ हो सकता है, तो देर किस बात की जो आज नहीं हो सकता वो कभी नहीं होगा, आज से अच्छा और बेहतर समय कोई नहीं कभी भी जरुरी और बेहद लाभकारी कार्य को शुरू करने का।

ऑनलाइन उपस्थिति क्यूँ अनिवार्य है, और इसके क्या लाभ हैं?

सफलता के नए प्रतिमान स्थापित कीजिये ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज कीजिये –

एक बेहद जरुरु बात को याद रखिये, वर्तमान में आप जो भी करते हैं उसे आपके परिचित लोग, सीमित ग्राहकों और आपकी लोकेलिटी और एरिया के अलावा कोई भी नहीं जानता और यदि आपने इसे प्रकाशित और प्रचारित नहीं किया तो बहुत लोग कभी जान भी नहीं पाएंगे।

क्यूंकि आप कभी भी अपने सीमित दायरे और कार्य क्षेत्र  के बाहर किसी से इस तरह से गुप्त और सीमित रहकर जुड़ नहीं पाएंगे और न ही लोग आपके बारे में, आपके काम के बारे में कुछ भी जान पाएंगे की आप कितने काबिल, सक्षम और प्रोफेशनल सेवाएं और उत्पाद बेहतर क्वालिटी और कीमत पर उपलब्ध कराने में सक्षम हैं।

इसका बहुत आसान और बेहद किफायती समाधान उपलब्ध है और सारी दुनिया आपके टैलेंट, आपके किये हुए कार्य, आपकी कुशलता और आपकी उपलब्धियों और आपके संतुष्ट ग्राहकों और आपकी व्यवसाय, उत्पाद, सेवाओं और हुनर के बारे में जान कर आपसे जुड़ सकती है।

आपको बिना कुछ ज्यादा प्रयास के अपने स्थान पर बैठे बैठे लोगों से संपर्क करने की सुविधा मिल सकती है, क्या आप इसके लिए तैयार हैं, तो हमारे साथ जुड़िये, हम आपको इन सभी लाभों को प्राप्त करने में सक्षम बनाए की दिशा में अग्रसर करने के लिए ही यहाँ उपस्थित हैं।

तो आइये हम मिलकर इसे संभव बनायें, आपकी सक्षमता, हुनर, उपलब्धियों, विशिष्टता और काबिलियत, कार्य, उत्पाद, सेवाओं और गुणवत्ता को सारी दुनिया तक पहुँचाने का मार्ग बनायें, आपकी ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करें और सारी दुनिया से जुड़ें।

ऑनलाइन उपस्थिति क्या है, और कैसे निर्मित करें

ऑनलाइन उपस्थिति क्या है, और कैसे निर्मित करें

ऑनलाइन उपस्थिति क्या है, और कैसे निर्मित करें

यह सवाल मेरे सभी व्यवसायी और उद्यमी क्लाइंट्स और विभिन्न व्यापार और पेशों में संलग्न परिचित मित्रों द्वारा पूछा जाता है, जब भी मैं उन्हें उनके व्यवसाय, पेशे और शॉप/स्टोर की ऑनलाइन उपस्थिति स्थापित करने की बात करता हूँ?

सर्वप्रथम हम यह जान लेते हैं की यह ऑनलाइन प्रेसेंस है क्या, फिर हम देखेंगे की यह क्यूँ अपरिहार्य और बेहद जरुरी है, आज के टेक्नोलॉजी आधारित दुनिया और बाज़ार में, और इसके क्या लाभ हैं, जो आपको अभी तक नहीं मिल पा रहे हैं।

आपके व्यवसाय/पेशे की वर्तमान स्थिति और उपस्थिति क्या है? –

मेरे भाई की स्कूल/ऑफिस/ट्रेवलिंग/लैपटॉप बैग्स, जनरल एक्सेसरीज और लगेज की दुकान है, और यह शहर के एक स्थान पर स्थित है, लेकिन मेरी दुकान के सामने कोई साइन बोर्ड, पता, स्थान, और फ़ोन नंबर न लिखा हो तो, मेरे मोहल्ले के लोगों के अलावा किसी को भी पता नहीं चलेगा की यहाँ एक बैग्स की दुकान है, जब तक वो उस सड़क से और मेरी दुकान के आगे से उसे देखते हुए न गुजरे, जिसका नाम बैग्स हाउस है, और यह बस स्टैंड के पास है, और यह बालाघाट में स्थित है, और संपर्क 98274590459  है, और मैं किस किस्म के बैग्स और गुड्स में डील करता हूँ।

क्या यह एक बेहतर बात है? क्या इससे मेरे व्यापार को कोई भी लाभ मिलेगा? बिलकुल नहीं, क्यूंकि इस दुनिया में जो दिखता है वही बिकता है, यह यह एक सर्वमान्य सत्य और हमारे व्यापार जगत और मार्केटिंग जगत की मूलभूत आवश्यकता है, जिसको अंगीकार किये बगैर कोई भी व्यापार और पेशे गति और प्रगति नहीं कर सकते न उनका अस्तित्व बना रह सकेगा। 

इस तरह आप देख सकते हैं आपके व्यवसाय/पेशे तक पहुँचने और बाज़ार में आपकी उपस्थिति को दर्ज करने के लिए एक साइन बोर्ड और उस पर लिखी जानकारी कितनी बातें बदल सकती है, आपके और आपके ग्राहकों के लिए, यही ऑनलाइन उपस्थिति के सम्बन्ध में सत्य है।

आज दुनिया में मार्केट और व्यवसाय का स्वरुप पिछले एक दशक में पूरी तरह बदल गया है, आज हम डिजिटल एज में जी रहें हैं, हमारे जीवन पर टेक्नोलॉजी का प्रभुत्व और व्यापक प्रभाव है, आज हम विश्व के किसी भी भाग में बैठ कर दुनिया के किसी भी दूसरे हिस्से के लोगों के साथ संवाद, व्यवसाय, आर्थिक व्यवहार उतनी ही सरलता और सुविधा के साथ कर सकते हैं जितना हम अपने लोकल मार्केट में करते हैं, आज व्यवसाय किसी भी सीमा में बंधकर नहीं किये जा रहे हैं।

आप अपने व्यवसाय/पेशे के लिए ग्राहकों के लिए सिर्फ अपने शहर, स्थान पर निर्भर नहीं रह सकते हैं, और यदि आपकी उपस्थिति ऑनलाइन नहीं है, तो आप कभी उन लोगों तक नहीं पहुँच पायेंगे जो आपको जानते नहीं है, या आपके सीमित कार्यक्षेत्र, मोहल्ले के बाहर रहते हैं।

ऑनलाइन उपस्थिति क्या है, और कैसे निर्मित करें

आज उपभोक्ता अपनी जरुरत की सारी जरुरत की चीजों को सबसे पहले ऑनलाइन सर्च करता है, और यदि उपलब्ध है तो सारी जानकारी लेकर, ऑनलाइन आर्डर करके घर बैठे उसे उपलब्ध कर लेता है, वो लोकल मार्किट तक जाता ही नहीं, ऑनलाइन स्टोर उसे डिलीवरी उपरांत भुगतान की सुविधा और न पसंद आने पर एक हफ्ते से लेकर 15 दिन तक समय देता है, अब यदि आपके पास ग्राहक न पहुंचे तो इसकी जिम्मेदारी किसकी है?

दूसरों की छोडिये, आप खुद देखिये आप अपनी जरुरत की कितनी चीजों के लिए अपने मोबाइल या लैपटॉप पर सर्च करते हैं, क्यूंकि ना लोगों के पास भीड़ भाड़ वाले बाजारों में जाने, दुकान दुकान घूमने और सीमित विकल्पों में से एक को बेमन से खरीदने में कोई भी रूचि नहीं है, वो इतना समय, ऊर्जा और धन इस तरह व्यय नहीं करना चाहते जब की उनके पास उनकी उँगलियों पर सैकड़ों उत्पाद, सारी जानकारी, दुसरे उपभोक्ताओं के अनुभव और डिस्काउंट और लुभावने ऑफर्स उपलब्ध हैं, वो आपकी दुकान पर क्यूँ आएगा?

क्या आप इन सभी ऑनलाइन स्टोर्स की तरह इतनी सारी सुविधाएँ और विकल्प अपने ग्राहकों के लिए उपलब्ध करा सकते हैं, सर्वप्रथम तो आप ऑनलाइन हैं ही नहीं, आपको जानने वाले सीमित लोगों और ग्राहकों के अलावा आप को कोई भी जानता नहीं है, और यदि इसी तरह कार्य करते रहे तो कभी जानेंगे भी नहीं, और आप अपनी आँखों के आगे इन ऑनलाइन उपस्थिति रखनेवाले लोगों के हाथों अपना व्यापार खोते रहेंगे, और आपके प्रतियोगी आपकी तरह हाथ पर हाथ धरे नहीं बैठेंगे वो भी ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करके आपके व्यवसाय और ग्राहकों को आपसे लेते रहेंगे।   

क्या यह आपके और आपके व्यवसाय के लिए उपयुक्त है? क्या यह आपके भविष्य के लिए अच्छा है? क्या मुट्ठी भर पहचान के लोग और ग्राहक आपके जीवन उद्देश्यों की पूर्ति के लिए आवश्यक धन और संसाधन उपलब्ध करने में सहयोगी हो सकते हैं?

जरा विचार कीजिये, जीवन और व्यवसाय वृद्धि करते रहने और आवश्यक बदलाव करते रहने पर ही पर ही सुचारू और बेहतर तरीके से चलते हैं और लम्बे समय तक लाभकारी रूप से कार्यरत और जीवित रहते हैं।

आप जिस भी व्यवसाय/पेशे से जुड़े हों वहां आप अकेले व्यवसायी और पेशेवर नहीं होंगे, निश्चित रूप से और भी लोग उस स्थान पर उन्हीं कार्यों को करने वाले होंगे और वे सभी भी उस स्थान पर उपलब्ध अवसरों, व्यापार और ग्राहकों को प्राप्त करने के लिए प्रयत्नशील होंगे।

अतः आपके लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा और चुनौती सदा रहेगी और यदि आपने अपने ग्राहकों और लाभकारी संपर्कों की संख्या में वृद्धि नहीं की तो आपका व्यवसाय और जीवन दोनों मुश्किल में पड़ सकते हैं, या कहिये पड़ चुके हैं, क्यूंकि बाहर बैठे व्यवसायी और ऑनलाइन कंपनियां आपके क्षेत्र, गाँव, शहर, मोहल्ले के ग्राहकों को घर बैठे सेवाएं और उत्पाद उपलब्ध कराने के लिए हर संभव कार्य कर रहे हैं, लुभावने ऑफर और सुविधाएँ उन्हें देने के लिए प्रस्तुत हैं।

आपको अपने आपको और अपने व्यवसाय/पेशे को उन सभी व्यवस्थाओं और सुविधाओं से युक्त करना पड़ेगा जो बाहर बैठे व्यवसायी/सुपर मार्किट/माल और ऑनलाइन स्टोर्स उपलब्ध करा रहे हैं, वर्ना आप उनकी प्रतिस्पर्धा में कहीं नहीं खड़े हो सकेंगे और व्यापार और मार्केट से बाहर हो जायेंगे, और अपने ग्राहकों को उन सभी से खरीददारी करते हुए देखने के लिए विवश होंगे।

ग्राहक वहीँ जाता है, जहाँ उसे अधिक सुविधा, छूट और वैरायटी मिले, क्या आप यह उपलब्ध करने में सक्षम हैं? तो विचार कीजिये आप किस तरह से इस चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं।

आपके ऊपर लिखे सभी प्रतियोगियों की सफलता का राज है, व्यवसाय करने की नयी तकनीक और व्यवस्थाओं का अंगीकार, वो ऑनलाइन उपस्थिति रखते हैं, अपने द्वारा प्रदाय की जानेवाली सभी वस्तुओं, उत्पादों, सेवाओं और सुविधाओं, ऑफर, डिस्काउंट से सम्बंधित सारी जानकारी को लुभावने तरीके से उन्होंने अपने ग्राहकों के लिए  विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर और सोशल मीडिया साइट्स पर उपलब्ध करा रखा है।

इन सभी प्लेटफॉर्म्स पर उनके ग्राहक उनसे सवाल कर सकते हैं, जानकारी ले सकते हैं, अपनी समस्याएं और जरूरतों को बता सकते हैं और अन्य ग्राहकों के अनुभव, शिकायतें और रिव्यु पढ़ और देख सकते हैं और सोचा समझा निर्णय अपनी हर बार की खरीदी के सम्बन्ध में कर सकते हैं, क्या आप इन सभी बातों को अपने कीमती ग्राहकों को उपलब्ध करने में सक्षम हैं?

इसलिए यह बेहद जरुरी है की आपका व्यापार/पेशा/सेवा/उत्पाद की जानकारी हर किसी के लिए उपलब्ध हो, और इसका एक मात्र उपाय है आपकी ऑनलाइन उपस्थिति, जहाँ 24X7, 365 दिन कोई भी व्यक्ति कहीं से भी आपके द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सेवा और उत्पादों की जानकारी ले सके, आप से सम्पर्क और संवाद कर सके और आपको आर्डर और भुगतान भी कर सके।

इससे आपका व्यापार अनवरत गति से चलता रह सकता है और आपके सीमित कार्यक्षेत्र और ग्राहकों के अलावा भी लोग आपसे जुड़ सकते हैं और आपको लाभ पहुंचा सकते हैं और आप उन्हें सेवा या उत्पाद विक्रय का अवसर अर्जित कर सकते हैं।

अब हम यह जान लेते हैं की ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज करने के क्या साधन और व्यवस्थाएं उपलब्ध हैं और हम किस तरह से इनसे जुड़ सकते हैं, और किसी तरह से इनका उपयोग अपने व्यवसाय/पेशे की वृद्धि और अधिकतम ग्राहकों तक पहुँचने के लिए कर सकते हैं-

ऑनलाइन उपस्थिति क्या है, और कैसे निर्मित करें

Google माय बिज़नस Google, विश्व में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाला सर्च इंजन है, इन्टरनेट पर कुछ भी खोजना हो तो हमें इन सर्च इंजन की जरुरत पड़ती है, और अगस्त 2019 में उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार भारत में ऑनलाइन खोज का 98.4% गूगल के द्वारा किया जाता है।

पूरे विश्व में यह आंकड़ा 93%है, इसलिए, आपका व्यापार/पेशा गूगल माय बिज़नस लोकल लिस्टिंग पर अनिवार्य रूप से होना चाहिए, ताकि आपके शहर और इसके बाहर रहने वाले सभी लोगों को आपके व्यापार/पेशे से सम्बंधित उत्पाद या सेवा खोजे जाने पर वो आपको देख सकें और आपसे संपर्क कर सकें और व्यवहार भी कर सकें।

यदि आपका व्यापार/पेशा गूगल पर नहीं है, तो वह 99% लोगों द्वारा ऑनलाइन कभी नहीं जाना जा सकेगा, इसलिए आपका Google My Business पर लिस्ट होना परम आवश्यक है, हम आपकी प्रोफेशनल प्रोफाइल दर्ज करते हैं, ताकि अधिक से अधिक लोग आपके व्यापार/पेशे, उत्पाद/सेवाओं के बारे में जान सकें लोकल और बाहरी ग्राहक, दोनों आपसे सम्पर्क और बिज़नस कर सकें।

सोशल मीडिया प्रोफाइल/पेज आज दुनिया सोशल मीडिया की है, Facebook, Instagram, Twitter, LinkedIn, Tumblr और Pintrest सबसे अधिक लोकप्रिय और व्यापक प्रभाव रखने वाले सोशल मीडिया प्लेटफार्म हैं, पूरी दुनिया में 3.5 अरब से अधिक लोग इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का इस्तेमाल करते हैं, अकेले फेसबुक के ही करीब 2 अरब उपयोगकर्ता हैं पूरी दुनिया में।

यदि आप का बिज़नस पेज फेसबुक और इन अन्य उपयुक्त प्लेटफार्म पर नहीं है तो आप बहुत बड़ी लाभ प्रदायक जनसँख्या से कभी नहीं जुड़ पाएंगे जो इन प्लेटफॉर्म्स से जुड़े हैं, यह एक मुफ्त में मिली सुविधा है।

आप यहाँ उपलब्ध, आपसे जुड़ने को इच्छुक सभी लोगों से जुड़ सकते हैं, उनसे संवाद कर सकते हैं और अपने उत्पाद और सेवाओं के सम्बन्ध में जानकारी साझा कर सकते हैं और व्यापार और संपर्कों में वृद्धि कर सकते हैं, अपने व्यापार या सेवाओं से सम्बंधित सभी लोगों का एक ग्रुप बना सकते हैं और सभी रूचि रखने वालों को इसमें शामिल कर सकते हैं और एक दुसरे को लाभ पहुंचा सकते हैं।

इसलिए आपका व्यक्तिगत और बिज़नस प्रोफाइल इन प्लेटफॉर्म्स पर निर्मित करना बेहद उपयोगी और फायदेमंद है, और हम इस सम्बन्ध में मदद कर सकते हैं, ताकि आप अधिकतम लाभ अर्जित कर सकें, अपनी ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करके और लोगों से जुड़कर।

आप बेहद आसानी से और किफायती रूप से अपने एड इन प्लेटफॉर्म्स पर चला सकते हैं और अधिक से अधिक लोगों तक अपने व्यापार/पेशे/उत्पाद/सेवा और ऑफर्स की जानकारी अपने नियमित और संभावित उपभोक्ताओं और ग्राहकों तक पहुंचा सकते हैं।

सोशल मीडिया और गूगल प्लेटफॉर्म्स पर विज्ञापन – सोशल मीडिया एवं गूगल एड प्लेटफॉर्म्स पर विज्ञापन, परंपरागत विज्ञापन के तरीकों की तुलना में बेहद कम खर्च पर और सीधे आपके वास्तविक ग्राहकों और हितग्राहियों तक पहुचने में समर्थ है।

जिसे आप पूरी तरह से नियंत्रित कर सकते हैं और अपने विज्ञापनों की प्रभावशीलता और उनके द्वारा प्रस्तुत परिणामों को कभी भी देख सकते हैं और अपनी रणनीति और विज्ञापन बदल सकते हैं, रोक सकते हैं या जारी रख सकते हैं, उनके अधिकतम प्रभाव का लाभ उठाते हुए, यह बेहद सुविधाजनक और लाभदायक है।

आपकी अपनी व्यक्तिगत और व्यावसायिक वेबसाइट – यह ऑनलाइन उपस्थिति का सबसे शक्तिशाली और व्यक्तिगत प्लेटफार्म है, जहाँ आप किसी भी तरह की व्यावसायिक गतिविधि, विज्ञापन और व्यावसायिक व्यवहार, तथा अपने नियमित और संभावित ग्राहकों/उपभोक्ताओं से सीधा संपर्क कर सकते हैं, ऑनलाइन चैट, ईमेल आदि के माध्यम से किसी भी अन्य ऑनलाइन प्लेटफार्म पर निर्भर हुए बिना।

आपकी वेबसाईट, यह आपका निजी क्षेत्र है, आप अपने व्यवसाय और ग्राहकों की आवश्यकता के अनुरूप, जानकारी, सुविधाएँ, विज्ञापन और अन्य जरुरी गतिविधियाँ सम्पादित कर सकते हैं, बिना किसी के हस्तक्षेप और अनुमति के

आपकी वेबसाइट आपके व्यवसाय/पेशे का चेहरा और मुख्य द्वार होता है, जहाँ से आपके नियमित और संभावित ग्राहक आपके/आपके उत्पाद और सेवाओं के बारे में जानकारी हासिल करते करते हैं, आपसे व्यावसायिक व्यवहार करते हैं, उत्पाद एवं सेवाओं का क्रय करते हैं, भुगतान करते हैं, अपनी आवश्यकता, संतुष्टि, शिकायत, और रिव्यु साझा करते हैं, जो अन्य लोगों के लिए उपयोगी और निर्णय लेने में सहयोगी होता है।

सभी ऑनलाइन उपस्थिति विकल्पों में व्यक्तिगत बिज़नस वेबसाइट सर्वाधिक शक्तिशाली, दूरगामी और प्रभावशाली उपकरण और व्यवस्था है यह सबसे ज्यादा सुविधाजनक और पूर्ण नियन्त्रण बनाये रखने में सक्षम करने वाली व्यवस्था है, जिसे आप जितने लम्बे समय तक चाहे कायम रख सकते हैं।

यह किसी और पक्षकार और व्यवस्था पर निर्भर नहीं है, यह आपका अपना प्लेटफार्म है, आपके स्वामित्व और नियत्रण में पूर्णतः, बस आपको इसे सुचारू रखने के लिए कुछ नियमित सालाना व्यय करने होते हैं, और एक सहयोगी जो इसे अपडेट, सुरक्षित और त्रुटी रहित रखने में आपकी मदद करे।

इसे आप अपनी जरुरत के हिसाब से कभी भी बदल, संशोधित और रूपांतरित कर सकते है, आपकी वेबसाइट आपका व्यक्तिगत प्ले ग्राउंड होता है, बाकी सभी अन्य प्लेटफॉर्म्स पर आपकी उपस्थिति और जानकारी और गतिविधि उन प्लेटफॉर्म्स के नियमों और पालिसी के आधीन होती है, और वो कभी भी आपकी प्रोफाइल, पेज और उपस्थिति को प्रतिबंधित और ख़त्म कर सकते हैं, बिना आपको सूचना दिए।

लेकिन आपकी वेबसाइट, आपकी अपनी ऑनलाइन संपत्ति होती है, इसे आपके और आपके ग्राहकों के लाभों के अनुरूप संचालित करने की व्यवस्था और सुविधा होती है।

सभी बेहद सफल और गुणवत्तापूर्ण उत्पाद और सेवाएं प्रदान करनेवाली सभी स्थानीय, देशीय और अंतरराष्ट्रीय व्यावसायिक और गैर व्यावसायिक संस्थाएं अपनी वेबसाइट निर्मित करके अपनी संस्था, व्यापार से जुड़े स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से जीवंत संपर्क बनाये रखती हैं और परस्पर लाभकारी गतिविधियों और व्यवहारों का सञ्चालन अपने इस पूरी तरह से व्यक्तिगत प्लेटफार्म के माध्यम से करती है।

यह उनकी सबसे बड़ी शक्ति और उपस्थिति है उनके अपने वातावरण में जहाँ वो लोगों के साथ जुड़े हैं काम करते है, उत्पाद और सेवाएं प्रदान करते हैं।

यदि आप अपने व्यवसाय/पेशे/उत्पाद एवं सेवाओं को ऑनलाइन प्रदर्शित करने, विक्रय करने के इच्छुक हों तो संपर्क कीजिये हम आपका ऑनलाइन स्टोर खोलने में आपकी हर संभव मदद करेंगे, ताकि आप अपने ऑफलाइन बिज़नस के साथ साथ ऑनलाइन भी लोगों को सेवाएं और उत्पाद विक्रय कर सके, अपने स्थानीय, देशीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी, पूरी सुरक्षा और सुविधा के साथ।

ऑनलाइन बिज़नस डायरेक्टरी – यह परंपरागत बिज़नस डायरेक्टरी सुविधाओं का बेहद व्यापक, प्रभावकारी और लाभकारी ऑनलाइन प्लेटफार्म है, जस्ट डायल जैसी अनेकों ऑनलाइन बिज़नस डायरेक्टरी सेवाएं उपलब्ध हैं जो आपके द्वारा उन्हें एक निश्चित फीस के सालाना या मासिक भुगतान करने पर आपके बिज़नस/प्रोफेशन को वो अपनी ऑनलाइन डायरेक्टरी में दर्ज करते हैं, आपके शहर, व्यवसाय/पेशे के प्रकार, स्थान, के आधार पर निर्मित सूचि में सूचीबद्ध करते हैं।

उपयोगकर्ताओं और सेवाओं और उत्पादों के खोजियों द्वारा शहर, लोकेशन, के आधार पर सर्च की जाती है, यह ऑनलाइन डायरेक्टरी सर्विस उनके पास सूचीबद्ध व्यापारियों/पेशेवरों/सेवाप्रदाताओं की सूची उपयोगकर्ता को उपलब्ध कराती है, जिसमें से अपने लिए उपयुक्त व्यक्ति या संस्था का चुनाव कर व्यक्ति उनसे संपर्क करता है एवं व्यावसायिक व्यवहार करने की दिशा में अग्रसर होता है।

यह सुविधा फ्री और पेड लिस्टिंग के रूप में उपलब्ध होती है, फ्री लिस्टिंग में आपका, नाम, पता, लोकेशन, फ़ोन नंबर, आपके द्वारा प्रदाय की जाने वाली सेवाएँ, उत्पाद, आदि की सूचना उपयोगकर्ता को उपलब्ध करायी जाती है, यहाँ सुविधाएँ और सूचना सीमित रूप से उपलब्ध करायी जाती है।

पेड लिस्टिंग में आपको व्यापक रूप से दर्शाया जाता है, आपको ज्यादा सुविधाएँ और विकल्प उपलब्ध होते हैं और हर बार जब आपसे सम्बंधित सेवा या उत्पाद के लिए कोई व्यक्ति उनकी डायरेक्टरी पर सर्च करता है तो वो इसकी सूचना आपको भेजते हैं, उस खोजकर्ता के कांटेक्ट और खोज के विषय से सम्बंधित, इस तरह वो आपको लीड्स उपलब्ध करते हैं जिन्हें आप बिज़नस में कन्वर्ट कर सकते हैं, लेकिन यह आपको सिर्फ पेड लिस्टिंग में ही उपलब्ध होता है।

तो यह हैं कुछ बेहद आसान, फ्री एवं पेड बहु प्रचलित और अनिवार्य ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज करने के प्लेटफार्म जो दिन रात आपके बारे में लोगों को अपने आप सूचना प्रदान करने के लिए कार्यरत हैं, और उनके द्वारा चाही गयी जानकारी, सन्देश और आदेश आप तक पहुँचाने में आपकी मदद कर सकते हैं।

50% off on making your online presence
50% off on our all plans till Diwali 2019

तो  आइये आपके बिज़नस, उत्पाद और सेवाओं को उन हजारों लाखों लोगों तक पहुंचाएं जो आपको नहीं जानते हैं और जो आपकी पहुँच से अभी बहुत दूर हैं, आइये उनसे संपर्क और आपसी लाभकारी सम्बन्ध निर्मित करने की दिशा में पहल करें, आपकी ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज करके, शुभस्य शीघ्रम।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

One of the readers of My blog and on Quora asked me this question. 

डिजिटल मार्केटिंग क्या है? 

डिजिटल मार्केटिंग, वस्तुतः मार्केटिंग ही है, फर्क सिर्फ इतना है की यह परंपरागत मार्केटिंग के साधनों और तकनीक की जगह इसमें डिजिटल संसाधनों और तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है, उद्देश्य तो ग्राहकों के साथ परस्पर हित रखने वाले संवाद और आर्थिक व्यव्हार मे वृद्धि करना ही होता है। और यह बेहद प्रभावी और बेहद किफायती भी है परंपरागत मार्केटिंग की तुलना मे।

इसमें परंपरागत मार्केटिंग की तरह मूलभूत बातों प्रोडक्ट या सर्विस, प्रमोशन, प्राइस एवं प्लेस का ही ध्यान रखा जाता है, लेकिन डिजिटल मार्केटिंग परंपरागत मार्केटिंग की तुलना मे ज्यादा गहरी, व्यक्तिगत एवं ज्यादा केन्द्रित रूप से कस्टमर के साथ संवाद और व्यव्हार स्थापित करने और उसमे वृद्धि करने की सुविधा और शक्ति प्रदान करती है।

यह ज्यादा सूक्ष्म तरीके से और ज्यादा विस्तृत और व्यापक स्थान और लोगो तक प्रभावी है, वो भी परंपरागत मार्केटिंग के १/१०० व्यय और कई बार तो इससे भी ज्यादा कम खर्च मे बेहतर और प्रभावी परिणाम उपलब्ध कराती है वो भी पूरी प्रक्रिया पर पूर्ण नियत्रण की क्षमता और सुविधा के साथ जो परंपरागत मार्केटिंग मे संभव नहीं है।

इसमें पूरी प्रक्रिया मे किस भी तल पर किसी भी किस्म का परिवर्तन किया जा सकता है, यह नापा जा सकता है की कौन सी क्रिया या कैंपेन ज्यादा प्रभावी है, और क्या परिणाम उत्पन्न करने मे सक्षम है, यह आपको विभिन्न माध्यमों और तरीकों के मध्य और और उनके सामूहिक प्रभावी एवं परिणाम केन्द्रित उपयोग की सुविधा प्रदान करता है।

आप उनकी मानिटरिंग करते हुए आवश्यक बदलाव हमेशा कर सकते है, जब चाहे इसे शुरू और रोक सकते है, इसका पूरा नियत्रण आपके हाथ मे ही रहता है, बस आपको लगातार प्रयोग करके सबसे उचित और प्रभावी तरीके को जांचना और उपयोग करना होता है ताकि व्यवसाय वृद्धि एवं ग्राहक संतुष्टि के लक्ष्य को बेहतर तरीके से सदा उपलब्ध कराया जा सके, एवं मौजूदा और नए ग्राहकों से संपर्क, संवाद कायम रख, व्यवसाय मे वृद्धि की जाती रहे।

डिजिटल मार्केटिंग वर्तमान समय मे और आने वाले समय मे संपूर्ण विश्व मे समस्त छोटे, बड़े और लोकल और अंतर्राष्ट्रीय लेवल के व्यापारियों, उद्योगों, एवं संस्थानों द्वारा अपने व्यवसाय को संचालित करने एवं अपने व्यवसाय के विभिन्न पक्षकारों से संयुक रहने, संवाद एवं व्यवहार करने का सबसे शक्तिशाली और अपरिहार्य सिस्टम है।

कोई भी व्यवसाय और व्यापार, व्यक्ति और संस्थान अपने से जुड़े लोगो को प्रभावी रूप से संवाद करने, सूचनाएं प्रेषित करने, उन्हें लगातार लाभ और सुविधाएँ पहुचने और उनके साथ लम्बे समय तक रहने वाले व्यावसायिक और व्यक्तिगत सम्बन्ध नहीं बनाये रख सकता बिना डिजिटल मार्केटिंग की मदद के।

आज और आनेवाले समय मे हमारे देश मे सभी छोटे और बड़े व्यापारियों के लिए यह आवश्यक हो गया है की वो इस परम उपयोगी व्यवस्था का समुचित उपयोग अपने कार्य और व्यवसाय की वृद्धि करने एवं अपने नए और पुराने ग्राहकों से जुड़े रहने के लिए करें, वरना वो मैदान से बाहर हो जायेंगे, एवं अपने प्रतियोगियों के सम्मुख जीवित और कायम नहीं रह पाएंगे।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग एक व्यक्ति को जो किसी खास कार्य मे माहिर है, एक व्यक्ति जो स्वयं की दुकान संचालित करने के लिए आवश्यक पूंजी से युक्त और सक्षम नहीं है को भी संपूर्ण विश्व के साथ अपने उत्पादऔर सेवाएं साझा करने के लिए सक्षम बनाती है, इसकी पहुँच सर्वव्यापी है समस्त भोगौलिक सीमाओं से परे आप अपने व्यापार और सेवाओं को लोगो तक पहुंचा सकते है।

यह पहले कभी संभव नहीं था यह पूरी तरह टेक्नोलॉजी आधारित व्यवस्था एवं उपाय है, आज इन्टरनेट ने पूरे विश्व को एक छोटे से ग्राम मे बदल दिया है, आप कभी भी कहीं भी अपने बारे मे जानकारी और सूचना विभिन्न सुचना तंत्र और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स की मदद से भेज सकते है विभिन्न माध्यमों से बेहद न्यूनतम खर्च पर या मुफ्त मे भी।

डिजिटल मार्केटिंग इन सभी संसाधनों, सुचना तंत्र और डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को अपने व्यवसाय और सेवाओं को लोगो तक सबसे प्रभावी तरीके से पहुचाने का सर्वाधिक उपयोगी सिस्टम है।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग के मूल तत्त्व या प्रक्रिया के घटक –

डिजिटल मार्केटिंग एक सुनियोजित, सुसंपादित व्यवस्था है जिसमे किसी भी व्यक्ति या व्यवसाय के द्वारा प्रदाय की जाने वाली सेवाओं और उत्पादों को उनके सम्बंधित ग्राहकों तक अधिकतम लाभकारी एवं प्रभावी तरीके से संप्रेषित करने एवं उन्हें उन सेवाओं के सम्बन्ध मे समुचित जानकारी, लाभदायकता और उनसे मिलने वाले लाभों की जानकारी देकर उन्हें उन वस्तुओं और सेवाओं का उपभोग करने के लिए प्रेरित किया जाता है, उनसे व्यवसाय अर्जित किया जाता है।

उन्हें नए नए उत्पादों और सेवाओं और उनके लाभों से अवगत करते हुए उन्हें बार बार उन उत्पादों और सेवाओं के उपभोग के लिए आमंत्रित किया जाता है उनसे व्यवसाय अर्जित किया जाता है और इसे अधिकतम लम्बे समय तक किया जा सके इसका उपक्रम निरंतर किया जाता है।

ग्राहकों से लगातार संवाद किया जाता है उनसे फीडबैक लिया जाता है, उत्पाद और सेवाओं की गुणवत्ता, मूल्य और अन्य सभी आवश्यक घटकों पर ध्यान और परिवर्तन समय समय पर किया जाता है ताकि ग्राहक की रूचि उन उत्पाद और सेवाओं का उपभोग करने मे बनी रहे और इसकी आवृत्ति होती रहे।

डिजिटल मार्केटिंग आपको अपने व्यवसाय की वृद्धि के लिए अचूक एवं सार्थक रणनीतियां बनाने, आपके प्रतियोगियों की बेहतर और लाभदायक मार्केटिंग और सेल्स तकनीकों, रणनीतियों का अवलोकन करने और स्वयं की प्रभावी और परिणामोत्पदक रणनीतियों और विज्ञापनों की सुव्यवस्थित श्रृंखला तैयार करने की व्यवस्था और युक्ति प्रदान करती है।

ताकि आप सदैव अपने प्रतियोगियों से बेहतर परिणाम प्राप्त कर सके एवं बाज़ार मे अपनी पहचान और स्थान सुरक्षित कर सके, उसे सदा और सुदृढ़ और प्रभावी बना सके।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग प्रक्रिया के घटक –

मूलतः किसी भी व्यवसाय और संस्थान द्वारा निम्न लिखित डिजिटल टूल्स एवं घटकों का इस्तेमाल अपनी डिजिटल मार्केटिंग रणनीति और उसके प्रभावी क्रियान्वयन द्वारा व्यावसायिक लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए किया जाता है, वे इस प्रकार हैं –

  • ऑनलाइन उपस्थिति (online presence) – डिजिटल मार्केटिंग के लिए सर्वप्रथम आपके व्यवसाय या संस्थान की ऑनलाइन उपस्थिति वेबसाइट, ब्लॉग, सोशल मीडिया प्रोफाइल के रूप मे अनिवार्य रूप से होना जरुरी है।

ताकि आप अपने व्यवसाय, सेवाओं , उत्पादों और उनके द्वारा आपके ग्राहकों और सम्बंधित व्यक्तियों को मिलने वाले लाभों, नियमों- शर्तों और ऑफर्स की जानकारी समय समय पर प्रदान कर सके, वो आपके साथ इंटरैक्ट कर सके, सवाल और जवाब कर सके, अपना फीडबैक दे सके, अपनी आवश्यकताएं, शिकायतें और सुझाव और प्राथमिकतायें भी आप के साथ साझा कर सके, बिना ऑनलाइन उपस्थिति के आप इस व्यवस्था का कोई भी लाभ नहीं उठा सकते क्यूंकि यह पूर्णतया टेक्नोलॉजी आधारित व्यवस्था है और इन्टरनेट इसका आधार है।

बिना ऑनलाइन उपस्थिति के आप अपने मौजूदा और संभावित ग्राहकों, व्यवसाय के विभिन्न पक्षकारों के साथ जीवंत, त्वरित एवं लाभकारी संवाद और संपर्क नहीं बनाये रख सकेंगे, यह अपरिहार्य है, यदि आप डिजिटल मार्केटिंग द्वारा उत्पन्न किये जाने वाले लाभों को प्राप्त करना चाहते है और इसे अपने सभी ग्राहकों और अन्य पक्षकारों तक पहुँचाना चाहते है तो, यह प्राथमिक एवं मूलभूत आवश्यकता है, हम आपकी इस सम्बन्ध मे मदद कर सकते है, आप हमसे info@36web.in पर संपर्क कर सकते है।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

  • एस ईओ SEO (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन) – ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करने अर्थात अपनी व्यवसाय या संस्थान की वेबसाइट, ब्लॉग और सोशल मीडिया उपस्थिति के पश्चात आपको अपनी ऑनलाइन उपस्थिति और इसकी लिंक के बारे मे सभी वर्तमान और संभावित ग्राहकों और पक्षकारों को सूचित करना आवश्यक होता है।

इसके लिए आपको अपनी वेबसाइट और उस पर प्रस्तुत एवं निर्मित पोस्ट, प्रोडक्ट्स, सर्विसेज एवं सूचनाओं को अधिकतम लोगो द्वारा सुविधापूर्ण और प्राथमिक खोज सूचि मे उपलब्ध करने हेतु SEO ट्रेंड्स और टेक्निक्स का उपयोग करना पड़ेगा ताकि आपकी सभी ऑनलाइन एसेट्स आपके उपभोक्ताओं, प्रयोगकर्ताओं और अन्य पक्षकारों के लिए दृश्य एवं उपलब्ध हो सभी सर्च engines पर।

प्रभावी SEO आपकी सभी ऑनलाइन उपस्थितियों को ज्यादा से ज्यादा और प्राथमिक खोज सूचि मे प्राथमिकता के साथ सूचीबद्ध करता है ताकि लोगो द्वारा आसनी से खोज किया जा सके और वो आपकी ऑनलाइन एसेट्स के साथ व्यव्हार और संवाद स्थापित कर सके और परस्पर लाभकारी गतिविधियाँ और व्यावसायिक व्यव्हार संचालित कर सकें।

प्रभावी SEO आयोजन आपकी ऑनलाइन एसेट्स को प्राथमिक रूप से सूचीबद्ध करके और आर्गेनिक रूप से ट्रैफिक उपलब्ध करने मे प्रभावी रूप से कार्य करता है, और आपके पेड विज्ञापनों के व्ययों मे अपेक्षित कमी करता है।

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

  • एस ई एम SEM (सर्च इंजन मार्केटिंग) –सर्च इंजन मार्केटिंग एक बेहद प्रभावी एवं सक्षम उपाय है डिजिटल मार्केटिंग प्रक्रिया मे, यह सर्च इंजन मे आपकी ऑनलाइन एसेट्स की प्रभावी एवं वरीयता क्रम मे सूचि बद्ध करने के लिए किया जाता है ताकि विशिष्ट कीवर्ड्स के लिए आपकी साइट्स सर्च इंजन के प्रथम पृष्ठ पर अग्रणी रूप से सूचिबद्ध की जा सके और अधिक से अधिक लोगो द्वारा खोजी जा सके, ताकि वो आपकी साईट पर विजिट कर सके और आपके साथ संवाद कर सके और आपके द्वारा प्रस्तुत उत्पाद और सेवाओं की जानकारी प्राप्त कर सके और क्रय भी कर सकें।

यह सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन से भिन्न है SEO आपको आर्गेनिक रूप से आपके विसिटर्स को आप तक पहुचने मे सहयोग करता है और इसमें ट्रैफिक स्वयं से उपलब्ध होता है SEM मे आप रणनीतिक रूप से विशिष्ट कीवर्ड्स के लिए विशिष्ट ऑडियंस को टारगेट करते है पेड एड्स की मदद से, बेहतर रैंकिंग और पोजीशन के लिए सर्च इंजन पर यह सुनियोजित होता है।

इसके लिए आपको विज्ञापन स्पेस के लिए बिडिंग करनी पड़ती है, क्यूंकि आपके सभी मौजूदा और संभावित प्रतियोगी उस स्थान के लिए प्रयासरत रहेंगे, यह रणनिति प्रधान प्रक्रिया है, इसमें ऐड प्लेसमेंट, ऐड रैंकिंग, गूगल रैंकिंग आदि बहुत सारी बातों को ध्यान मे रखकर ऐड कैम्पेन निर्मित और प्रसारित करना पड़ता है, यह एक प्रभावी एवं पेड सर्च रैंकिंग व्यवस्था है।

सभी मुख्य सर्च इंजन जैसे गूगल और बिंग आपको SEM के लिए गूगल Adwords और बिंग एड्सप्लेटफार्म उपलब्ध करते है जिनके माध्यम से आप एड स्पेस के लिए बिडिंग कर एड रन कर सकते है और अपनी डिजिटल एसेट्स को रैंकिंग और पोजीशन दिलवा सकते है जिससे अधिक से अधिक लोग आपके व्यवसाय, सेवाओं और उत्पादों के बारे मे जान सके और क्रय कर सके।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

  • एस एम एम SMM (सोशल मीडिया मार्केटिंग) – सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से तो आप सभी अच्छी तरह परिचित होंगे जैसे फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम , यूटयुब, गूगल प्लस, लिंक्ड इन, पिंटरेस्ट आदि, वो आपको, आपके व्यवसाय, सेवाओं और उत्पादों को आपके टारगेट ऑडियंस तक पहुचने मे बेहद प्रभावी और उपयोगी होते है।

आपको अपनी वेबसाईट के अलावा सभी उचित सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अपने व्यवसाय और उत्पादों से सम्बंधित प्रोफाइल और पेज बनाना आवश्यक है साथ ही इन्हें अपनी वेबसाइट से सम्बंधित करना भी जरुरी है ताकि आपकी साईट से इन सोशल मीडिया प्लेटफोर्म और इनसे आपकी साईट तक ट्रैफिक निर्मित हो सके और आप और आपके सभी ग्राहक और व्यावसायिक पक्षकार इससे लाभान्वित हो सके।

सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म आपको अपने प्लेटफॉर्म्स से अपने व्यवसाय, उत्पादों और सेवाओं को प्रदर्शित करने, विक्रय करने व उनसे सम्बंधित विज्ञापन प्रेषित करने की सुविधा प्रदान करते है साथ ही वो आपके एड केम्पेन की सार्थकता, परिणाम और उत्पादकता को मापने के लिए जरुरी सुचना और आंकड़े उपलब्ध करते है अपने इंटरनल एनालिटिक्स की मदद से, आप जाँच सकते है प्रयोग कर सकते है की कौन सा ऐड ज्यादा प्रभावी और उत्पादक है।

यह सर्वाधिक लोकप्रिय एवं मूल्य व् गुणवत्ता प्रदान करने वाली व्यवस्था है, आप सभी को अपने व्यवसाय, प्रोडक्ट और सेवाओं के प्रचार के लिए और अधिक से अधिक जागरूकता फ़ैलाने और व्यवसाय व बिक्री बढ़ाने के लिए इनका उपयोग करना चाहिए।

सोशल मीडिया प्लेटफार्म सबसे ज्यादा व्यापक और प्रभावी माध्यम है विज्ञापन और व्यवसाय की पहुँच और विक्रय मे वृद्धि करने का, लेकिन इसके लिए विशिष्ट ज्ञान, कुशलता रणनीति और ऐड केम्पेन तैयार करने और सही ऑडियंस चुनने के लिए प्रयुक्त करनी जरुरी है वरना अपेक्षित लाभ नहीं मिलेगा। फेसबुक पर २ अरब लोग मौजूद है, आप इससे अंदाज़ा लगा सकते हैं इन प्लेटफार्म की सम्प्रेषण क्षमता का, यह बेहद प्रbhavi और उत्पादक है।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

  • यूजर इंटरफ़ेस डिजाईन (UX डिजाईन) – यह एक बेहद महत्पूर्ण घटक है जिसके सम्बन्ध मे सभी व्यवसाइयों और डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट्स को ध्यान देना चाहिए, अन्यथा आप जो भी प्रयास अपनी वेबसाइट तक कस्टमर्स का ट्रैफिक ले जाने के लिए कर रहे है, वो प्रभावी और उत्पादक नहीं सिद्द होगा।

यदि आपकी वेबसाइट और डिजिटल एसेट्स, की डिजाइनिंग आकर्षक, सूचनाप्रधान एवं आसानी से विभिन्न सुविधाओं और प्रभागों तक पहुचने और उपयोग करने योग्य होना चाहिए, यदि आपकी वेबसाइट यूजर फ्रेंडली डिजाईन से युक्त नहीं होगी तो आपकी सारी कोशिशो और कीमती प्रयासों के बावजूद ग्राहक आपकी साईट से विमुख होंगे और बिना कोई व्यव्हार और गतिविधि और संवाद किये आपकी साईट से विमुख हो जायेंगे।

अतः आपकी साईट को फ्रेंडली इंटरफ़ेस और डिजाईन से युक्त होना परम आवश्यक है, ताकि आपके ग्राहक और विसिटर्स को आसानी से आपके उत्पादों, सेवाओं और व्यवसाय के बारे मे सारी आवश्यक जानकारी और व्यव्हार करने की सुविधा प्राप्त हो।

इसके अंतर्गत वेबसाइट का फ़ास्ट लोडिंग होना, और मोबाइल फ्रेंडली या रिसपोंसिव होना परम आवश्यक है, यह भी यूजर इंटरफ़ेस डिजाईन के अंतर्गत आनेवाला सर्वाधिक महत्वपूर्ण तत्व है, इसके अभाव मे भी ग्राहक और विसिटर्स आपकी साईट पर रुकने और व्यव्हार करने से विमुख होंगे जो बेहद नुकसानदायक बात है, क्यूंकि आपका और आपके ग्राहकों को लाभ आपकी वेबसाइट के उपयोग से ही मिल सकेंगे।

अधिक लोडिंग टाइम और मोबाइल फ्रेंडली साईट नहीं होने पर आपको सर्च इंजन पर हाई रैंक और पोजीशन भी नहीं मिल सकेगी क्यूंकि सर्च इंजन आपकी एसेट्स को इसके अयोग्य पाएंगे, अतः इसे सर्वाधिक महत्वपूर्ण घटक समझ कर अपनी साईट को इस त्रुटि से मुक्त रखना होगा, तभी आपको इच्छित लाभ मिल सकेंगे।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

  • ईमेल मार्केटिंग – यह डिजिटल मार्केटिंग प्रक्रिया का सर्वाधिक प्रभावी और सबसे शक्तिशाली घटक है, सभी ऑनलाइन मार्केटिंग एक्सपर्ट, ब्लॉगर एवं व्यावसायिक संस्थान इसे एक दशक से अधिक समय से इस्तेमाल कर रहे है और आज भी यह सर्वाधिक उत्पादक एवं परिणाम देनवाला डिजिटल टूल है।

डिजिटल मार्केटिंग इनबाउंड मार्केटिंग के अंतर्गत आता है इसमें व्यक्तिगत संवाद किया जाता है टार्गेटेड ऑडियंस के साथ उनकी स्वीकृति और पसंद के अनुरूप, और उन्हें इस बात की सुविधा दी जाती है की उन तक पहुचने वाली सभी मेल कभी भी उन तक आना बंद की जा सकती है।

सभी बिज़नस संस्थान अपने वर्तमान और संभावित ग्राहकों को अपने उत्पादों की जानकारी प्रदान करने, उन्हें आवश्यक सूचना, ऑफर और अन्य व्यावसायिक सम्प्रेषण के लिए ईमेल को सबसे विश्वसनीय और प्रभावी उपकरण की तरह सम्मान और प्राथमिकता प्राप्त है।

यह बेहद सुविधाजनक एवं बार बार संपर्क करने फीडबैक लेने, ग्राहक और उपभोक्ता को बेहतर तरीके से समझने और उनकी आवश्यकताओं और बजट के अनुरूप सेवाएं और उत्पाद उपलब्ध करने, उनकी शंकाओं और समस्याओं का समाधान करने , उन्हें नियमित रूप से नए उत्पादों, ऑफर और अन्य लाभों की जानकारी देने और बेहतर संबन्ध बनाये रखने मे बेहद मददगार है।

आप इसे इस तरह से समझ सकते है की विश्व के सर्वाधिक सफल डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट, ऑनलाइन स्टोर्स, ऑनलाइन उद्यमियों की सफलता का मुख्य श्रेय उनकी ईमेल लिस्ट को जाता है जो उन्होंने कई वर्षों के संपर्क और संवाद से निर्मित की है, यह अपने उपभोक्ताओं, और ग्राहकों से विश्वशनीय सम्बन्ध बनाने का और व्यक्तिगत संपर्क करने का सर्वाधिक प्रभावी और परिणाम प्रस्तुत करनेवाला सबसे लाभदायी और सफल उपकरण है।डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

इस प्रकार आप देख सकते हैं की डिजिटल मार्केटिंग विभिन्न ऑनलाइन टेक्निक्स और प्लेटफॉर्म्स और टूल्स के द्वारा अपने व्यवसाय और ग्राहकों, के मध्य ज्यादा पारदर्शी, व्यक्तिगत और परस्पर लाभकारी सम्बन्ध बनाए रखने की बेहद सुनियोजित और प्रभावी व्यवस्था है।

इन ऊपर वर्णित उपकरणों के अलावा और भी अनेक अंदरूनी बातें और उपकरण है जो आप को डिजिटल मार्केटिंग को प्रभावी और परिणामोत्पादक रूप से उपयोग करने के लिए आवश्यक है जो इस प्रकार है –

  1. गूगल और सोशल मीडिया एनालिटिक्स की समझ और उसका वास्तविक सही उपयोग।
  2. थर्ड पार्टी मार्केटिंग एंड रिसर्च टूल्स जैसे SEMRUSH, मोज आदि के उपयोग का ज्ञान, प्रतियोगी विश्लेषण और रैंकिंग फैक्टर्स को जानने समझने के लिए ।
  3. कीवर्ड प्लानर के उपयोग की समझ और जानकारी बेहतर ट्रैफिक और एक्सपोज़र के लिए।

डिजिटल मार्केटिंग एक विस्तृत एवं सदा विकसित होनेवाला क्षेत्र है इसमें सदा नयी नयी तकनीक और तरीके विकसित किये जाते रहते है आपको सदैव मार्किट और टेक्नोलॉजी ट्रेंड्स और नए विकास को जानने और उसका उपयोग अपने कार्य मे करने और उससे उत्पन्न होने वाले सकारात्मक और नकारात्मक प्रभावों को निरिक्षण करते रहना होगा।

मार्केटिंग एक तरल विषय है इसमें परिवर्तन होते रहता है उसके अनुरूप हमे अपनी रणनीति बनानीऔर उपयोग करनी चाहिए अधिकतम उत्पादकता और प्रभावशीलता उत्पन्न करने के लिए, धन्यवाद।

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें?

आज सभी छोटे और मध्यम व्यवसायियों के सामने सबसे बड़ा सवाल है की वो अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें? ग्राहकों को अपनी दुकान या स्टोर तक कैसे लायें? व्यापार में विक्रय की मात्रा और ग्राहकों की संख्या में वृद्धि कैसे करें? बढती प्रतियोगिता का सामना कैसे करें? 

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें?

टेक्नोलॉजी का प्रभुत्व और व्यापार करने के तरीके में बदलाव 

पिछले कुछ वर्षों में ऑनलाइन स्टोर्स के बढ़ जाने और उपभोक्ताओं द्वारा ऑनलाइन क्रय करने की आदतों में वृद्धि और डिजिटल व्यव्हार करने की वजह से भी लोकल व्यवसाइयों और छोटे और मध्यम दुकानदारों को कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना ऑनलाइन स्टोर्स से करना पड रहा है।

बहुत से दुकानदार और रिटेल व्यापारी सरकार, GST, नोटबंदी  और ऑनलाइन कंपनियों को इसकी वजह बताते हैं, वो कभी भी अपनी जड़ता और पुराने तरीके से व्यापार करने और इसे बदलने की दिशा में कोई भी प्रयास नहीं कर रहे हैं, और ऐसा किये बिना वो इन अति आवश्यक बदलाव और आधुनिक टेक्नोलॉजी के प्रयोग से उत्पन्न चुनौतियों का सामना नहीं कर पाएंगे।

वो यह नहीं देखते की वो एक ऐसे मोड़ पर खड़े हैं जहाँ दुनिया एक नए युग में प्रवेश कर रही है, सारी दुनिया में लोग डिजिटल आर्थिक व्यव्हार करने की और अग्रसर हो रहे हैं, विकसित देशों में लोग अपनी सारी खरीददारी 80% और अन्य आर्थिक व्यव्हार ऑनलाइन  ही कर रहे हैं।

समय के साथ जरुरी बदलाव करना जीवन का अपरिहार्य नियम है, जो परिवर्तन के लिए तैयार रहते हैं, वही लम्बे समय तक समर्थ और सक्षम बने रहते हैं, निरंतर प्रगति करते रहते हैं, यही आज और अभी सभी व्यवसायी बंधुओं को करने की जरुरत है।

डिजिटल क्रांति का प्रभाव और उपभोक्ता सशक्तिकरण 

डिजिटल क्रांति, स्मार्ट फ़ोन का प्रचलन, तीव्र गति इन्टरनेट और सरकार और सभी बैंकों द्वारा दी जाने वाली सुविधाएँ, डिजिटल वालेट भीम, PAYTM आदि ने डिजिटल व्यव्हार को घर घर तक पहुंचा दिया है, उपभोक्ता अपने सारे भुगतान इन्ही डिजिटल माध्यमों से कर रहे हैं।

और ऑनलाइन कंपनियों और सस्ते और तीव्र गति के इन्टरनेट कनेक्शन ने उपभोक्ताओं के सामने वर्चुअल वर्ल्ड को खोल दिया है, जहाँ वे अपने पसंद के उत्पादों और सेवाओं की जानकारियां प्राप्त कर रहे हैं, तुलनात्मक परिक्षण कर रहे हैं, अन्य उपभोक्ताओं के अनुभव और अन्य तकनिकी और उपयोग सम्बन्धी जानकारियां प्राप्त कर ज्यादा समझदारी और जानकारी द्वारा सक्षम रूप से प्रभावी निर्णय अपने उत्पाद और सेवाओं के क्रय के सम्बन्ध में कर रहे हैं, जो उन्हें अपने लोकल व्यवसायी द्वारा उबलब्ध नहीं है।

अब ग्राहक सिर्फ सामान खरीदने नहीं जाता वो जागरूक और जानकारी से युक्त है, उसे अब बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता ना ही उससे अधिक लाभ कमाया जा सकता है, क्यूंकि उसके पास बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं, और सभी उसे अपनी और खीचने के लिए प्रयासरत हैं।

सभी छोटी और बड़ी उपभोक्ता उत्पाद और सेवा प्रदान करने वाली कंपनियां व्यापार जगत और उपभोक्ताओं की रूचि के अनुसार अपने उत्पादों और सेवाओं का ऑनलाइन विक्रय और उपलब्धता प्रारंभ कर दी है, जिससे उपभोक्ताओं को घर बैठे उत्पाद और सेवाएं मिल जाती है, और साथ ही विक्रय उपरांत की उनकी समस्याओं के समाधान भी उन्हें घर बैठे ही मिल जाते हैं।

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें?

इन सभी बातों ने उपभोक्ताओं में उत्पाद और सेवाओं की ऑनलाइन खरीदी के लिए प्रोत्साहित किया है, ऑनलाइन कंपनियां अपने ग्राहकों को हर तरह सुविधा जैसे किश्तों में भुगतान, तुरंत भुगतान वापिसी और उत्पाद पसंद न आने पर बदलना या पैसे वापिसी की सुविधा ने उपभोक्ताओं का ऑनलाइन स्टोर्स की और विश्वास सुद्रढ़ किया है।

चुनौतियां 

आज बहुसंख्यक परंपरागत तरीकों से व्यवसाय करने वाले छोटे बड़े व्यापारियों और दुकानदारों के सामने, बदलते समय और टेक्नोलॉजी के दखल ने कई सवाल खड़े  किये हैं, जिनके जवाब ढूंढे बगैर वो अपने परंपरागत तरीके से किये जाने वाले व्यापार को गति, वृद्धि और सुरक्षित भविष्य नहीं दे पाएंगे, क्या है यह सवाल और चुनौतियाँ?

  1. क्या आप अपने सीमित व्यवसाय और गिनती के ग्राहकों से संतुष्ट है, क्या इससे आप बाज़ार में बने रह सकंगे?
  2. क्या आप अपने व्यवसाय को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं?
  3. क्या आप आसानी से अपने सीमित कार्यक्षेत्र के बाहर के लोगों तक अपने उत्पाद और सेवाओं का विक्रय करना चाहते है?
  4. क्या आप अधिक लाभ अर्जित करना चाहते हैं, मगर कैसे संभव होगा यह?
  5. क्या आप व्यावसायिक मंदी, बढ़ते कॉम्पटीशन और सीमित ग्राहकों की संख्या से परेशान हैं, आपके पास इस समस्या का क्या समाधान है?
  6. क्या आप अपने नियमित ग्राहकों के ऑनलाइन खरीदी की आदतों से चिंतित हैं, और आप कैसे उन्हें अपनी शॉप तक ला सकते हैं? 
  7. किस तरह आप अपने ग्राहकों को अपना साथ जोड़े रख सकते हैं, क्या उपाय है आपके पास अभी, इस समय, और क्या वो आपके उद्देश्यों की पूर्ति में कारगर साबित हो रहा है? 
  8. क्या आप अपने ग्राहकों को डिजिटल पेमेंट जैसे की ऑनलाइन पेमेंट सुविधायें डिजिटल वॉलेट भीम, PAYTM, डेबिट, क्रेडिट कार्ड स्वाइप मशीन से भुगतान स्वीकार करने में सक्षम हैं? 
  9. क्या आप के व्यवसाय के बारे में और आपके द्वारा विक्रय किये जाने वाले उत्पाद और सेवाओं के सम्बन्ध में ऑनलाइन जानकारी उपलब्ध है, क्या आपके व्यवसाय की वेबसाइट या सोशल मीडिया प्रोफाइल है? 
  10. क्या आप का व्यवसाय गूगल सर्च इंजन पर स्थापित है, या उपभोक्ता ऑनलाइन आपके व्यवसाय या स्टोर की जानकारी, कांटेक्ट या लोकेशन प्राप्त कर सकते हैं, क्या वो आपको मेसेज या आर्डर कर सकते हैं? 
  11. क्या परंपरागत विज्ञापन के तरीके आपके लिए उपयुक हैं और वांछित परिणाम पाने में मददगार हो रहे हैं? 
  12. क्या आपके पास अपने ग्राहकों की समस्या, सुझाव जानने और संवाद के लिए कोई सशक्त माध्यम है, जहाँ वे अपनी सुविधा से अपनी जरूरतों और समस्त्याओं को साझा कर सकें? 

समाधान 

इन सभी सवालों के जवाब पाने के लिए और आपके व्यवसाय के सुरक्षित भविष्य और इसे विकासशील और लाभप्रद बनाये रखने के लिए लिए आपको अपने व्यवसाय को ऑनलाइन स्थापित करना होगा, यह कोई विकल्प नहीं है, यह परम आवश्यक है आज के युग में।

ताकि आप अधिक से अधिक लोगों तक पहुँच सके और अपने उत्पाद और सेवाओं की जानकारी उपभोक्ताओं को दे सके, उनके साथ जीवंत और त्वरित संवाद कर सके, उनकी जरूरतों और समस्याओं को जान सके और उसके समाधान प्रदान करके उनका आपके प्रति विश्वास और आपसे सम्बन्ध मजबूत कर सके।

ग्राहक तक सभी पहुँच रहे हैं ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यमों से, आपकों भी अपने नियमित और संभावित ग्राहकों तक पहुंचना होगा और अपने व्यवसाय और आपके द्वारा विक्रय किए जाने वाले उत्पाद सेवाओं और सुविधाओं की जानकारी उपलब्ध करानी होगी।

आपको अपने लोकल प्रतियोगियों और ऑनलाइन स्टोर्स और मार्केटप्लेस द्वारा उपभोक्ताओं को दी जाने वाली सुविधाओं के सम्बन्ध में भी जानना और विचार करना होगा, ताकि आप अपने ग्राहकों को वो सभी ऑफर, सुविधा और लाभ स्थानीय रूप से उपलब्ध करा सकें, इसके बगैर आपके व्यवसाय के लम्बे समय तक अस्तित्व में रहने और इतनी चुनौतियों के मध्य गति और प्रगति करना एक मुश्किल कार्य होगा ।

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें, आइये अपना व्यवसाय ऑनलाइन स्थापित करें

हम इसमें आपकी मदद करने के लिए उपलब्ध है, अपनी आवश्कताओं को बताइए और अपने व्यवसाय के विकास और वृद्धि को सुनिश्चित कीजिए और अपनी चिंताओं से मुक्ति पाइए, जितनी जल्दी आप बदलाव को स्वीकार करेंगे, आप अपने व्यवसाय में लीड करेंगे और औरों से अधिक लाभ और बेहतर स्थान निर्मित करेंगे।

ऑनलाइन उपस्थिति अनिवार्य है, इसके बिना आपके व्यापार का कोई भी भविष्य नहीं है

याद रखिये आप डिजिटल क्रांति के युग में है और अपने व्यापार में वृद्धि करने के इच्छुक हैं या नया व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, इसके लिए आपको ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करनी होगी और इसे वास्तविकता में बदलने के लिए हम आपके साथ हैं।

इससे आप घर बैठे या अपने लोकल बिजनेस या शॉप से ही अपने पूरे शहर, आसपास के अन्य शहर और पूरे प्रदेश और देश के ग्राहकों के साथ जुड़ जाते हैं, आप का व्यापार सिर्फ आपके मोहल्ले, गली या सीमित क्षेत्र तक रुका हुआ नहीं रह जाता।

ऑनलाइन माध्यमों के द्वारा मार्केटिंग और विज्ञापन अत्यंत सुविधाजनक होता है,  यह पूरी तरह लक्ष्य केन्द्रित और हमारे नियंत्रण में होता है और परंपरागत विज्ञापन माध्यमों की तुलना में बेहद किफायती और प्रभावी परिणाम प्रस्तुत करने में सक्षम बनाता है।

क्या बिना ग्राहकों की संख्या बढ़ाए आप अपने व्यापार को लंबे समय तक लाभदायक रूप से सफलता पूर्वक संचालित कर सकते हैं?  नहीं, लेकिन इसे संभव करने में हम आपके साथ हैं।

यदि आपके पास दुकान नहीं है, और न ही आप किराये, लीज और बहुत खर्चा दुकान स्थापित करने में नहीं लगाना चाहते हैं ,लेकिन आप कोई बेहद उपयोगी और गुणवत्ता युक्त उत्पाद या सेवाओं का विक्रय करना चाहते हैं तो भी यह संभव है, हम आपके लिए इसे संभव बना सकते हैं, आपकी ऑनलाइन शॉप या ऑनलाइन स्टोर निर्मित करके।

आप अपने शहर या आसपास के ग्रामों और शहरों से ऑर्डर प्राप्त कर सकते हैं और अपने उत्पाद और सेवाओं की डिलीवरी अपने ग्राहकों तक अपनी और उनकी सुविधा अनुसार कर सकते हैं।

यह आसानी से संभव है और बहुत कम खर्च पर, अधिक जानकारी के लिए हमसे संपर्क कीजिए।

make your presence online

आइए आपकी ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करें और आपके व्यवसाय को नई ऊंचाइयां और वृद्धि उपलब्ध कराएं, और भी बहुत कुछ है जो हम आपके साथ साझा करना चाहते हैं।

यदि आप अपने व्यवसाय को ऊपर लिखित समस्याओं से मुक्त करके वांछित लाभ और परिणाम प्राप्त करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क कीजिये, हम आपके व्यवसाय की ऑनलाइन उपस्थिति निर्मित करने के सम्बन्ध में आपको फ्री कंसल्टेंसी उपलब्ध कराते हैं, हमे कॉल कीजिये, whatsapp मेसेज कीजिये 9300351369 पर और ईमेल कीजिये, अपने सवालों के साथ, आपका स्वागत है, आपके विकास में सहयोगी होना ही हमारा लक्ष्य है। 

Grow online with us

Grow online with us – START YOUR BUSINESS ONLINE

We are offering our services in WordPress Website Designing, Grow Online with us, We create Responsive and attractive websites for your personal and business needs. 

We are delivering quality websites designing services and consultancy to all the people who want to make their presence online. 

Contact us, tell us about your requirement to serve you the best. GROW ONLINE WITH US - 36WEB.IN

make your presence online

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE NOWMAKE YOUR PRESENCE ONLINE

START YOUR OWN ONLINE STORE/BUSINESS NOW, GO WITH THE TREND AND REAP OUT THE BEST FROM YOUR MARKET AND YOUR AUDIENCEGROW ONLINE WITH US - 36WEB.IN

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE

AFFORDABLE AND BEST SERVICE PROVIDER TO MAKE YOUR PRESENCE ONLINE IN YOUR REGIONGROW ONLINE WITH US - 36WEB.IN

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें?

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE NOW

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE

GROW ONLINE WITH US TO STAY IN BUSINESS AND AHEAD OF YOUR COMPETITION GROW ONLINE WITH US - 36WEB.IN

start your online store

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE

WE DELIVER PROFESSIONAL SERVICES TO MAKE YOUR BUSINESS GROW AND MAKE MORE PROFITGROW ONLINE WITH US - 36WEB.IN

start your business online

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE NOW

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE

BE A PART OF DIGITAL REVOLUTION OR BE READY TO BE LOST IN THE CROWD OF NON PERFORMING OBSOLETE BUSINESS ENTERPRISES GROW ONLINE WITH US - 36WEB.IN

अपने व्यवसाय में वृद्धि कैसे करें?

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE

MAKE YOUR PRESENCE ONLINE NOW